Followers

Tuesday, 7 January 2014

हौ रामवचन

हौ रामवचन सीट अपने झाडि़ के बैस'
हौ रामवचन पानि अपने ढ़ारि के पीय' 
हौ रामवचन चपरासियो बुरहाय छै
हौ रामवचन डांड़ो धखाय छै
हौ रामवचन टीनोपाल-किरीच कम कर'
हौ रामवचन दू घर छोडि़ये के फेक' जाल
हौ रामवचन कथी ले एत्‍ते बेहाल
हौ रामवचन कत्‍ते मुस्‍की,कनखी
हौ रामवचन

No comments:

Post a Comment